जीवन की पुस्तक....



मेरे जीवन की पुस्तक को है पढ़ पाना बड़ा मुश्किल ,
 कि इसमें दुःख है पीड़ा है सुख पाना बड़ा मुश्किल .
ये पुस्तक आज भी यूँ मीर स्वर्णिम ही रही होती ,
 तुझे पाना बड़ा मुश्किल तुझे खोना बड़ा मुश्किल…
       …atr

Comments

Popular posts from this blog

वासंती हवा

तुम्हारे हिज़्र में

प्रेम की खोज